TRENDING
Next
Prev

लखनऊ : लोकसभा चुनाव 2024 में वैसे तो काफी समय बाकी है लेकिन बीजेपी ने अभी से इसकी तैयारियां शुरू कर दी है। पिछले महीने तेलंगाना में हुई बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद से बीजेपी उसी रणनीति पर चल रही है जो बैठक में तय की गई थी। सीटों के लिहाज से यूपी सबसे बड़ा प्रदेश है लिहाजा पार्टी ने यूपी में अभी से हर समुदाय को लुभाने की कोशिश शुरू कर दी है। इसी कड़ी में बीजेपी यूपी में अल्पसंख्यक समुदाय को लुभाने में जुटी है। हर घर तिरंगा अभियान के तहत भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा उत्तर प्रदेश के मुस्लिम बहुल इलाकों में परिवारों तक पहुँच रहा है और तिरंगा यात्रा निकाल रहा है। सूत्रों के मुताबिक बीजेपी 13 से 15 अगस्त के बीच अल्पसंख्यक समुदाय के अधिकांश घरों के ऊपर तिरंगा फहराएगा। इस दौरान अल्पसंख्यक मोर्चा अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्यों को राज्य और केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही विकास योजनाओं के बारे में भी बताएगा। इस दौरान अल्पसंख्यक मोर्चा के सदस्य लोगों को बताएंगे कि मोदी और योगी सरकार अल्पसंख्यक समुदाय को कैसे लाभ पहुंचा रही हैं। इसके अलावा उन्हें ये भी बताया जाएगा कि कैसे योगी और मोदी सरकार ने दंगों से उनकी रक्षा की है जो पिछली सरकारों में हुआ करते थे। भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के सदस्यों के लिए हर घर तिरंगा अभियान के अलावा 27-29 अगस्त तक विशेष प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया है जिसमें मुस्लिम नेता हिस्सा लेंगे। दूसरी तरफ यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य विपक्षी दलों से पूछ रहे हैं कि उन्होंने सत्ता में रहने के दौरान पसमांदा (पिछड़े) मुसलमानों के लिए क्या किया।

राजगढ़: मध्यप्रदेश के राजगढ़ में पुलिस ने एक हैरान कर देने वाले मामले का खुलासा किया है. यहां एक पति ने पत्नी की सिर्फ इसलिए हत्या करवा दी ताकि उसकी बीमा पॉलिसी (Insurance Policy) की राशि से वह अपने ऊपर चढ़े कर्ज को उतार सके. हैरानी की बात यह है कि पत्नी की हत्या से पहले खुद पति ने ही पत्नी का 35 लाख रुपए का बीमा करवाया था. राजगढ़ जिले के एडिशनल एसपी मनकामना प्रसाद के मुताबिक, बीती 26 जुलाई की रात करीब 9 बजे का यह मामला है. जिले के भोपाल रोड स्थित माना जोड़ गांव के पास महिला पूजा मीणा (27) की उस वक्त गोली मारकर हत्या कर दी गई, जब वह बाइक पर अपने पति बद्रीप्रसाद मीणा (31) के साथ बैठकर जा रही थी. पति ने पुलिस को बताया कि उसने चार लोगों से कर्ज ले रखा था, जो उस पर लगातार रुपए वापस करने का दबाव बना रहे थे. पति ने पुलिस को अपनी कहानी में बताया कि जब वह अपनी पत्नी के साथ नेशनल हाइवे से गुजर रहा था, तो इसी दौरान उन चार लोगों ने हमला कर दिया. इस दौरान पत्नी बीच-बचाव करने लगी तो आरोपी उसे गोली मारकर फरार हो गए. पुलिस ने महिला के पति के बयान के आधार पर चार आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया और तफ्तीश शुरू कर दी थी.

इस दौरान पता चला कि महिला का कुछ दिन पहले ही बीमा करवाया गया था. जिसके बाद जांच की दिशा बदली गई और फिर जो खुलासे हुए उसके बाद पुलिस ने आखिरकार हत्यारे का पता लगा ही लिया. हत्यारा कोई और नहीं, बल्कि मृतका का पति ही निकला. पुलिस जांच में पता चला कि आरोपी ने पहले पत्नी का बीमा करवाया और बाद में उसकी हत्या करवा दी ताकि बीमा की राशि से कर्ज उतार सके.

ऐसे खुला राज

पुलिस को दिए बयान में मृतका के पति ने घटना की रात की जो कहानी बताई थी, उसमें कहा था कि पत्नी को सामने से गोली मारी गई जबकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चला की महिला को पीछे से गोली मारी गई थी. यहीं से पुलिस का शक गहरा गया. इसके बाद पुलिस ने चारों आरोपियों की कॉल डिटेल्स निकलवाई, तो पाया गया कि घटना के समय इनमें से कोई भी घटनास्थल या मौजूद नहीं था.  इसके बाद जब पुलिस ने मृतका के पति की कॉल डिटेल निकलवाई तो मालूम हुआ कि एक नंबर पर पति की पिछले कुछ दिनों में लगातार बात हुई है और वह नंबर घटना वाली रात घटनास्थल पर मौजूद भी था. इसके बाद पुलिस ने पति से पूछताछ की तो शुरुआत में उसने गुमराह किया, लेकिन सख्ती से पूछताछ के बाद आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया.  एडिशनल एसपी मनकामना प्रसाद ने बताया कि मृतका के पति ने जुर्म कबूल लिया. आरोपी ने बताया कि उसके ऊपर करीब 50 लाख रुपये का कर्ज हो गया था. उसने इस कर्ज को उतारने के लिए पहले पत्नी का 35 लाख रुपए का दुर्घटना बीमा करवाया और फिर इंटरनेट पर वीडियो देखकर पत्नी की हत्या का प्लान बनाया.

बाइक खराब होने का बहाना

इसके लिए आरोपी ने तीन बदमाशों को 5 लाख रुपये में पत्नी की हत्या की सुपारी दी. 1 लाख रुपए एडवांस दिए और कहा कि बीमे की राशि से बाकी रकम देगा. हत्या वाली रात पति ने सड़क पर बाइक खराब होने का बहाना बनाया और पत्नी को सड़क किनारे बैठने का बोलकर बाइक सही करने का नाटक करने लगा. इसी दौरान सुपारी लेने वाले आरोपियों ने पीछे से महिला को गोली मार दी और फरार हो गए.  जांच में सामने आया है कि आरोपी बद्री ने सहयोगी अजय उर्फ गोलू, शाकिर और हुनरसिंह के साथ मिलकर इस हत्या की घटना को अंजाम दिया है. फिलहाल कुरावर पुलिस ने आरोपी बद्रीप्रसाद और हुनरसिंह को गिरफ्तार किया है. आरोपी पति बद्री प्रसाद मीणा कुरावर थाने का निगरानीशुदा बदमाश भी बताया जा रहा है. वहीं, मामले के अन्य आरोपी  शाकिर और गोलू बोड़ा की तलाश जारी है.

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
44,579,088
Recovered
0
Deaths
528,584
Last updated: 8 minutes ago
Live Cricket Score
Astro

Our Visitor

0 5 7 3 0 9
Users Today : 11
Users Last 30 days : 840
Total Users : 57309

Live News

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.